Share
उत्तराखंड में आंधी-तूफान ने खड़ी की मुसीबत!

उत्तराखंड में आंधी-तूफान ने खड़ी की मुसीबत!

देहरादून: उत्तराखंड में मौसम की बदली करवट ने भले ही गर्मी से कुछ राहत दी है, लेकिन इस दरम्यान आंधी-तूफान मुसीबत भी खड़े कर रहे हैं। सोमवार को भी मौसम का यही रंग नुमायां हुआ। चमोली जिले में चोटियों पर हिमपात हुआ, जबकि निचले इलाकों में बारिश के साथ ही अंधड़ भी चला।

जोशीमठ में तूफान से उखड़कर गिरे पेड़ की चपेट में आकर एक घर क्षतिग्रस्त हो गया। वहीं, मैदानी क्षेत्रों में हवा में हल्की ठंडक से चढ़ते पारे पर मामूली अंकुश लगा है। उधर, मौसम विभाग के अनुसार मंगलवार को सूबे में मौसम शुष्क रहेगा।

चमोली जिले में सुबह से चटख धूप के बाद दोपहर में मौसम का मिजाज बदला। इसके साथ ही बदरीनाथ धाम, हेमकुंड साहिब समेत ऊंची चोटियों पर बर्फबारी शुरू हो गई। पांडुकेश्वर, जोशीमठ, गोपेश्वर में अंधड़ चला और फिर तेज बारिश भी हुई। ऐसे में जिले के ऊपरी इलाकों में ठंडक भी महसूस की जाने लगी है।

जोशीमठ में करीब सवा तीन बजे अंधड़ के दौरान कोतवाली के पास भारी भरकम पेड़ उखड़कर एक घर के ऊपर जा गिरा। इससे घर का एक कमरा पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। शुक्र ये कि उस वक्त कमरे में कोई नहीं था। रुद्रप्रयाग जिले को लें तो वहां केदारनाथधाम समेत आसपास के इलाकों में जोरदार बौछारें पड़ीं।

मौसम के इस रुख के चलते हवा में हल्की ठंडक है। इसकाअसर मैदानी क्षेत्रों पर भी पड़ा है और चढ़ते पारे पर कुछ अंकुश लगा है। दून की ही बात करें तो यहां अधिकतम पारा 35.2 डिग्री सेल्सियस पर आ गया है। ऐसी ही स्थिति दूसरे मैदानी क्षेत्रों की भी है। मौसम विभाग के अनुसार मंगलवार को राज्य में शुष्क मौसम के बीच आसमान मुख्यत: साफ रहेन से लेकर आंशिक रूप से बादल छाये रह सकते हैं। मैदानी क्षेत्रों में पारे में एक से दो डिग्री तक की गिरावट आ सकती है।

Leave a Comment