Share
सात हफ्तों से थे लापता!

सात हफ्तों से थे लापता!

काठमांडू। सात हफ्ते पहले नेपाल के पहाड़ी इलाके से लापता ताइवानी ट्रैकर्स को बचावकर्ताओं ने ढूंढ निकाला है। इनमें से सिर्फ एक ही बच पाया है दूसरे की मौत हो गई है।

इन ट्रैकर्स में 19 साल की लियू चेन-चून की तीन दिनों पहले ही मौत हुए है। वहीं उसका साथी लिआंग शेंग-आइक्ह सात हफ्ते तक बिना खाना खाए जिंदगी से जंग लड़ता रहा और अंतत: इसमें कामयाब रहा। 21 साल के लिआंग को एयरलिफ्ट कर काठमांडू के अस्पताल पहुंचाया गया है, जहां पर उसका इलाज चल रहा है।

बचावकर्मी माधव बसनेत ने बताया कि जब ट्रैकर हमें मिला तब वो सो रहा था। हमारी अावाज सुनकर वो उठा। हम उसे अकेला देखकर चौंक गए थे। उसने बताया मेरे साथ जो लड़की थी उसकी तीन दिन पहले मौत हो गई है।

बचावकर्मियों ने बताया कि ये दोनों नदी के किनारे-किनारे एक ठिकाने की तलाश में निकले थे लेकिन एक झरने के किनारे पहुंच गए और ऊपर चढ़ने में असमर्थ रहे। लियांग को गर्म सूप पिलाया उसके बाद उसे कुछ बोलने की ताकत आई। टूटी फूटी अंग्रेजी के साथ उसने बताया कि यहां पर बहुत ठंड है और सोना भी मुश्किल है।

लियांग का उपचार कर रहे डॉक्टर संजय करकी ने बताया कि उसका 30 किलो वजन कम हो गया है और दाहिने पैर में कुछ परेशानी आई है।

Leave a Comment