Share
कोलकाता की करिश्माई जीत!

कोलकाता की करिश्माई जीत!

कोलकाता। आइपीएल-10 के 27वें मुकाबले में रविवार के दूसरे मुकाबले रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और मेजबान कोलकाता नाइट राइडर्स की टीमें आमने-सामने थीं। मैच में बैंगलोर की टीम ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। पहले बल्लेबाजी करने उतरी कोलकाता की टीम 20 ओवर में 131 रन बनाकर सिमट गई। बैंगलोर के सामने 132 रनों का लक्ष्य था। जवाब में उतरी बैंगलोर की टीम ने आइपीएल इतिहास का सबसे शर्मनाक प्रदर्शन किया और 9.4 ओवर में पूरी टीम महज 49 रन पर सिमट गई। कोलकाता ने ये मैच 82 रन से जीता। आपको बता दें कि आइपीएल के इतिहास में दूसरी बार ही ऐसा हुआ है कि मैच में पूरे 20 विकेट गिरे।

– कोलकाता ने दिया 132 रन का लक्ष्य

पहले बल्लेबाजी करने उतरी मेजबान कोलकाता नाइट राइडर्स ने ताबड़तोड़ शुरुआत की। एक बार फिर गंभीर सुनील नरेन के साथ ओपनिंग करने उतरे और नरेन ने आते ही धुआंधार बल्लेबाजी करनी शुरू कर दी। उनका स्कोर 3 ओवर में 39 रन तक पहुंच गया था लेकिन चौथे ओवर में टायमल मिल्स की एक स्विंग होती गेंद पर गंभीर विकेटकीपर जाधव के हाथों कैच आउट हो गए। गंभीर ने 14 रन बनाए। हालांकि इसके बाद भी सुनील नरेन जब तक पिच पर रहे वो अपने ही अंदाज में खेलते रहे। नरेन 17 गेंदों पर 34 रनों की तेज पारी खेलने के बाद मिल्स की गेंद पर बाउंड्री पर खड़े चहल को कैच थमा बैठे। इसके ठीक एक रन बाद रॉबिन उथप्पा (11) भी बद्री की गेंद पर एलबीडब्ल्यू हो गए। जबकि यूसुफ पठान (8) को चहल ने कैच आउट कराया और कोलकाता को चौथा झटका लग गया। इसके ठीक 11 रन के बाद मनीष पांडे (15) को भी चहल ने ही पवेलियन का रास्ता दिखाया जबकि छठे विकेट के रूप में 93 के कुल स्कोर पर कॉलिन डी ग्रैंडहोमे (0) बिना खाता खोले चहल का शिकार बन गए। ये चहल का तीसरा विकेट रहा। इसके बाद विकेटों का ऐसा पतझड़ शुरू हुआ कि अंत तक नहीं थमा। 120 के कुल स्कोर पर क्रिस वोक्स (18) आउट हुए और देखते-देखते 131 के स्कोर तक पूरी टीम सिमट गई। कूल्टर-नाइल ने 2 रन बनाए, सूर्यकुमार यादव ने 15 रन बनाए और कुलदीप यादव 4 रन बनाकर आउट हो गए।

बैंगलोर की तरफ से चहल ने सर्वाधिक 3 विकेट लिए जबकि टायमल मिल्स और पवन नेगी ने 2-2 विकेट लिए। वहीं बद्री, अरविंद और बिन्नी ने एक-एक विकेट हासिल किया।

– बैंगलोर ने किया हैरान, सबसे शर्मनाक प्रदर्शन

जवाब में उतरी बैंगलोर की टीम की शुरुआत बेहद खराब रही। पारी की तीसरी ही गेंद पर कप्तान विराट कोहली (0) मनीष पांडे को कैच थमा बैठे जबकि अगले ओवर में मनदीप सिंह (1) भी उमेश यादव की गेंद पर पांडे को कैच थमा बैठे। इसके बाद तीसरे ओवर में कूल्टर-नाइल की एक ऊंची गेंद पर एबी डीविलियर्स भी ठीक पिच के करीब गेंद ऊपर मार बैठे, कीपर उथप्पा ने आसानी से कैच लपका और बैंगलोर को तीसरा झटका लगा। इसके बाद भी बैंगलोर की मुश्किलें नहीं थमी क्योंकि पांचवें ओवर की पहली गेंद पर कूल्टर-नाइल ने केदार जाधव (9) को भी क्रिस वोक्स के हाथों कैच कराया और बैंगलोर को चौथा झटका लगा। इसके बाद 40 रन के कुल स्कोर पर सातवें ओवर में सबसे धुआंधार बल्लेबाज क्रिस गेल (7) भी वोक्स की गेंद पर पवेलियन लौट गए। विकेटों का पतन यहीं नहीं थमा। इसी ओवर में इस स्कोर पर वोक्स ने स्टुअर्ट बिन्नी (8) को भी कीपर उथप्पा के हाथों कैच कराया और बैंगलोर को छठा झटका भी लग गया। दो रन और बने, फिर 42 के स्कोर पर ग्रैंडहोम ने पवन नेगी (2) को भी एलबीडबल्यू करके सातवां झटका दे दिया। दो रन और बीते और 44 के स्कोर पर वोक्स ने सैमुअल बद्री (0) को भी एलबीडब्ल्यू कर दिया।

आइपीएल इतिहास का सबसे छोटा स्कोर

इसके बाद 48 के स्कोर पर मिल्स और 49 के स्कोर पर चहल के रूप में अंतिम विकेट भी गिर गया। आइपीएल इतिहास का सबसे छोटा स्कोर 2009 में केपटाउन में राजस्थान रॉयल्स टीम ने बनाया था जब वे 58 रन पर सिमट गए थे लेकिन आज बैंगलोर ने ये अनचाहा रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया। बैंगलोर की टीम में कोई भी खिलाड़ी दहाई का आंकड़ा तक पार नहीं कर सका। कोलकाता की तरफ से उनके पेसर क्रिस वोक्स, कॉलिन डी ग्रैंडहोम और नाथन कूल्टर-नाइल ने 3-3 विकेट लिए जबकि उमेश यादव ने एक विकेट झटका।

Leave a Comment